इस पोस्ट में गुड़ तिल के लड्डू बनाने की रेसिपी शेयर की गई है गुड़ और तिल से बने लड्डू सभी को बहुत पसंद होते है।

मकर संक्राति के खास अवसर पर तिल और गुड़ के लड्डू पारम्परिक रूप से बनाये जाते है। कुछ लोगो को गुड़ खाना पसंद नहीं करते जिसकी वजय से शक्कर और तिल के लड्डू बना लेते है जिससे लड्डू खाने में उतने स्वादिष्ट नहीं लगते है जितने की गुड़ तिल के लड्डू खाने में अच्छे लगते है।

गुड़ तिल के लड्डू ठंडी के मौसम में खाने से बहुत फायदे मंद होते है इसीलिए आप इन लड्डू को सर्दी के मौसम में ही बनाये।

गुड़ और तिल के लड्डू बनाना बहुत आसान है और इनका स्वाद बहुत स्वादिष्ट होता है जिसकी वजय से बच्चे और बड़े सभी इसे बहुत शौक से खाते है।

तो चलिए अब गुड़ और तिल के स्वादिष्ठ लड्डू बनाना शुरू करते है।

गुड़ तिल के लड्डू बनाने के लिए सामग्री

  • गुड़ : 200 ग्राम
  • तिल : 250 ग्राम
  • घी : 2 चम्मच
  • बादाम : 10 बारीक़ पीसी हुई
  • काजू : 10 बारीक़ पीसी हुई
  • इलायची : 1
  • भुनी मूंगफली : 10 बारीक़ पीसी हुई

गुड़ तिल के लड्डू बनाने की विधि

गुड़ और तिल के लड्डू बनाने के लिए सबसे पहले तिल को साफ करना होता है।

सबसे पहले आप सफेद तिल ले तिल को अच्छे से साफ कर ले तिल को साफ करने के बाद एक बर्तन में साफ पानी ले अब पानी में तिल डाल कर धो ले ताकि उसमे मिटटी हो तो वह पानी में घुल जाए और तिल अच्छे से साफ हो जाए।

तिल को पानी से बाहर निकाले ले और एक कपड़े पर धुप में फैला दे, तिल को एक 5 घंटे तक धुप में सूखा ले।

5 घंटे बाद तिल को समेट ले, अब ऊपर बताई गई सामग्री को गैस को पास रख ले।

कढ़ाई को गैस पर रखे कढ़ाई में मुगफली डाले और भून ले, जब मूंगफली भून जाए तो कढ़ाई से बाहर निकाल ले।

अब मूंगफली के छिलके निकाल दे, अब मूंगफली, काजू और बादाम को पीस ले।

जब फ्राई फ़ूड पीस जाये तो गुड़ को कद्दूकस कर ले।

अब आप कढ़ाई को गैस की मीडियम आंच पर गर्म करे जब कढ़ाई गर्म हो जाए तो कढ़ाई में तिल डाल कर लगातार चलाते रहे और तिल को अच्छे से भून ले।

तिल सही तरह से भुनी है या नहीं इसका पता लगाने के लिए थोड़ी सी भुनी हुई तिल साथ में ले और मसले यदि तिल चूरा हो जाती है तो समझ जाए की तिल भून गई है।

तिल भुनने के लिए गैस की आंच को मीडियम ही रखना है।

जब तिल भून जाए तो गैस को बंद कर दे, तिल को एक प्लेट में निकाल ले, अब कढ़ाई को कपड़े से साफ करके वापस से गैस पर रख दे और गैस को चालू करके कढ़ाई में दो चम्मच घी डाल कर गर्म कर ले जब घी गर्म हो जाए तो उसमे गुड़ डाल दे गैस की आंच को धीमा कर ले ताकि गुड़ जले न साथ ही गुड़ में इलायची भी डाल दे। ( गुड़ की पहचान )

गुड़ को धीमी आंच में पूरी तरह पिघलाना है जब गुड़ पिघल जाए तो गैस को बंद कर दे और पिसे हुए काजू बादाम और मूंगफली को गुड़ में मिला दे।

अब गुड़ में भुनी हुई तिल भी मिला दे और चम्मचे से मिक्स कर ले, जब तिल और गुड़ अच्छे से मिक्स हो जाए तो दोनों के मिश्रण को थोड़ा ठंडा होने दे।

जब मिश्रण थोड़ा ठंडा हो जाए तो हाथ में थोड़ा सा घी या पानी लगा कर तिल और गुड़ का मिश्रण हाथ में ले कर लड्डू का आकार दे।

इसी तरह प्र्तेक लड्डू के बनाने के बाद हाथ में पानी या घी लगाते जाए और सारे लड्डू इसी तरह से बना ले।

लड्डू बनाने के बाद एक प्लेट में रखते जाए ताकि उन्हें हवा लगती जाए और वह सूखते जाए।

जब सारे लड्डू बन जाए तो उन्हें कम से कम 5 घंटे तक खुली हवा में रखा रहने दे। ताकि लड्डू सुख कर खुश्क हो जाए।

5 घंटे बाद आप लड्डू को हवा बंद डिब्बे में रख सकते है। तिल और गुड़ के लड्डू 2 महीने तक खराब नहीं होते है।

गुड़ ठंडा होने पर जमने लगता है जिससे लड्डू बनाने में थोड़ी दिक्कत हो सकती है इसीलिए हो सके तो थोड़े गर्म मिश्रण से ही लड्डू बनाये।

ये भी जाने :

गुड़ तिल के लड्डू बनाने के लिए आवश्यक सुझाव

चाहे आप तिल बाजार से मगवाये या घर की तिल से लड्डू बना रहे है लेकिन आप तिल को अच्छी तरह से साफ़ कर ले ताकि लड्डू का स्वाद अच्छा जाए यदि आप तिल को धोयेंगे नहीं तो लड्डू में थोड़ा अलग ही टेस्ट आएगा।

तिल के लड्डू बनाने के लिए मोती तली की कढ़ाई का इस्तमाल करे, यदि आप पतली तिल का इस्तमाल करेंगे तो तिल अच्छे भुनेगी नहीं।

तिल को भुनने के लिए गैस की आंच को मीडियम रखे ताकि तिल अच्छे भून सके।

गुड़ को गर्म करने के लिए गैस की आंच मीडियम से कम होनी चाहिए।

गुड़ को कढ़ाई में डालने से पहले घी जरूर डाले घी डालने से गुड़ खुश्क रहगा।

यदि आपके पास ड्राई फ़ूड जैसे काजू बादाम मूंगफली हो तो डाले नहीं तो इनकी कोई जरूरत नहीं है।

गुड़ तिल के बने लड्डू में इलायची डालने से बहुत ही अच्छा स्वाद आता है।

कृपया शेयर करे !