पपीता के पत्ते का जूस। Papita ke patte ka juice kaise banaye

इस आर्टिकल में पपीता के पत्ते का जूस बनाने की रेसिपी जानेगे।

पिछले पेज पर हमने ग्रीन टी बनाने की रेसिपी शेयर की है उसे भी जरूर पढ़े।

हम सभी जानते है की पपीता हमारी सेहत के लिए बेहद लाभकारी माना जाता है इसमें पाए जाने वाले पोषक तत्व मैग्नीशिय, कैल्शियम और विटामिन A, B, C, D और E हमारे शरीर को कई तरह से लाभ पहुंचाते है।

तो चलिए पपीता के पत्ते से जूस कैसे बनाते है।

पपीता के पत्ते से जूस बनाने की सामग्री

  • पपीते के ताजे हरे पत्ते : 10
  • काला नमक : स्वादानुसार
  • काली मिर्च : 2 कुटी हुई

पपीता के पत्ते से जूस बनाने की विधि

पपीता के पत्ते का जूस बनाने के लिए सबसे पहले ताजे हरे और छोटे पत्तो का चुनाव कर ले।

अब उन पत्तो को साफ पानी में दो बार धो ले और चाकू से मोटा मोटा काट ले।

पत्तो को पीसने के लिए मिक्सर जार ले और पत्तो को मिक्सर जार में डाले थोड़ा सा पानी और कुटी हुई काली मिर्च भी डाल दे अब मिक्सर जार का ढक्कन बंद कर और पत्तो को ग्राइंडर की सहायता से बारीक़ पेस्ट होने तक पीस ले।

जब पत्ते बारीक़ पेस्ट में पीस जाए तो ग्राइंडर को बंद कर दे।

अब एक बाउल यानि बड़ा सा कटोरा ले उसमे चाय की छन्नी रखे और पेस्ट को अच्छे से छान ले यदि पेस्ट छन्नी में से निकले न तो आप थोड़ा थोड़ा पानी डालते हुए छान ले।

जब पेस्ट छन जाए तो छाने हुए जूस में स्वादानुसार काला नमक मिलाये और चम्मच से मिक्स करे ताकि नमक सारे जूस में अच्छे से फेल जाए।

तैयार है पपीते के पत्ते का जूस।

अब इस जूस को गिलास में डाल कर सर्व करे, यदि आप इसे ठंडा पीना चाहते है तो आप इसे फ्रीज में रख सकते है और यदि आप तुरंत पीना चाहते है तो बर्फ के टुकड़े डाल दे जूस का मजा दो गुना बढ़ जायेगा।

ये भी जाने –

पपीता के पत्ते के जूस को पीने के फायदे

  1. डेंगू होने पर जो शरीर में प्लेटलेट्स की संख्या कम हो जाती है हाथ पैर में दर्द होता है इसके अलावा बुखार और सिर दर्द बढ़ जाता है ऐसे में यदि पपीते का जूस दिया जाए तो यह जूस शरीर में प्लेटलेट्स की संख्या को बढ़ाने में मदद करता जिससे बुखार कम हो जाता है, सिर दर्द ठीक हो जाता है और धीरे धीरे व्यक्ति ठीक हो जाता है।
  2. यदि किसी की नजर कमजोर है, मोतिया हो गया जिसके कारण उन्हें देखने में दिक्कत होती है तो आप उन्हें पपीते के पत्ते का काढ़ा बना कर पीला सकते है इसमें अधिक मात्रा में विटामिन पाए जाते है जो हमारी आँखों की रौशनी तेज करता है।
  3. यदि आपका पाचन तंत्र कमजोर है और आप पेट भरके खाना नहीं खा सकते है तो आपको पपीते के पत्ते का जूस रोज सुबह खाली पेट पीना चाहिए यह आपके पाचन तंत्र को मजबूत करके और अधिक भूख लगने लगेगी।
  4. यदि किसी महिला को पी सी ओडी की शिकायत है तो वह लगातार 21 दिन तक पपीते के पत्ते का जूस या काढ़ा बना कर इसका सेवन करने से आपके मासिक धर्म सही समय पर खुलकर आएंगे साथ ही पी सी ओडी की समस्या से छुटकारा भी मिल जाएगा।
  5. एनीमिया होने पर शरीर पीले रंग का हो जाता है जिससे लोगो को लगता है की पीलिया है लेकिन ऐसा नहीं है एनीमिया होने पर शरीर में रक्त की कमी हो जाती है जिससे शरीर पीले रंग का दिखने लगता है इसलिए एनीमिया होने पर रोज पपीते के जूस का सेवन करने से एनीमिया की शिकायत दूर हो जायेगी साथ ही खून की कमी भी पूरी हो जाएगी।

उम्मीद है ऊपर बताई गई रेसिपी से आपको पपीते का जूस बनाने में आसानी हुई होगी।

कमेंट करके जरूर बताये आपको मेरी यह रेसिपी कैसे लगी।