गुजिया बनाने की विधि। Gujiya kaise banaye

इस पेज पर आप गुजिया बनाने का आसान तरीका जानेगे।

गुजिया एक ऐसी मिठाई जो सभी को पसंद होती है इसे कई तरह के भरवन से तैयार किया जाता है और इसका खोल मैदे से तैयार किया जाता है, यह बाहर से दिखने में कड़क और अंदर से रवीली होती है।

यदि आप भी गुजिया बनाने का आसान तरीका ढूढ़ रहे है, तो चलिए देर किस बात की मेरी इस रेसिपी से बहुत ही आसानी से बहुत ही स्वादिष्ट गुजिया बनाते है।

गुजिया बनाने के लिए आवश्यक सामग्री

गुजिया का खोल बनाने के लिए सामग्री

  • मैदा : 1 कप
  • रवा (सूजी) : 1 कप
  • घी : 3 चम्मच
  • पानी : गुनगुना जरूर के अनुसार

गुजिया बनाने के लिए भरवन की सामग्री

  • मावा : 1 कप
  • इलायची पाउडर : 1/ 3 चम्मच
  • नारियल कद्दूकस किया हुआ : 1/2 कप
  • काजू : 10 कद्दूकस किये हुए
  • बादाम : 10 कद्दूकस की हुई
  • तेल या घी : जरूर के अनुसार

गुजिया बनाने की विधि

गुजिया बनाने के लिए सबसे पहले एक परात में मैदे को छान ले, अब तीन चम्मच घी मैदे में डाले और दोनों हाथ से मैदे और घी को अच्छे से 1 मिनट तक मिक्स कर ले।

अब गुनगुना पानी ले कर थोड़ा-थोड़ा करके मैदे में डाले और हाथ से मिक्स करते हुए, पूरी जैसे सख्त आटा गूथ कर तैयार कर ले।

जब आटा पूरी जैसा गूथ जाए तो आटे को सूती कपड़े से ढक कर 15 से 20 मिनट के लिए अलग रख दे, ताकि आटा अच्छे सेट हो जाए।

जब तक आटा सेट हो रहा है आप भरवन तैयार कर ले।

गुजिया में भरने के लिए भरवन तैयार करने के लिए, एक कढ़ाई में एक कप मावा डाल दे और कढ़ाई को गैस पर रख दे अब मीडियम आंच में मावे को चमचे से चलाते हुए ब्राउन होने तक सेक ले।

जब मावा ब्राउन हो जाए तो उसे एक थाली में निकाल ले और अब धीमी आंच में कढ़ाई को वापस से गैस पर रख दे और कढ़ाई में एक चम्मच घी डालकर सूजी को कढ़ाई में डालकर धीमी आंच में ही चमचे से चलाते हुए ब्राउन होने तक भून ले।

जब सूजी भी ब्राउन हो जाए तो बारीक़ कटे काजू, बादाम और नारियल को सूजी में डालकर आधा मिनट तक भून ले।

अब गैस बंद कर और सूजी को भी मावे वाली थाली में निकाल ले।

अब सूजी और मावे को ठंडा हो जाने दे उसके बाद दोनों को अच्छे से मिक्स कर ले, पीसी हुई चीनी और इलायची पाउडर को भी मिश्रण के साथ मिक्स कर ले।

जब भरवन तैयार हो जाए तो सेट किये हुए मैदे को भी कपड़े से बाहर निकाले और छोटी छोटी लोई बना ले।

लोई को गोल गोल करके वापस से कपड़े से ढक दे ताकि हवा न लगे, यदि गुथे हुए आटे में या गोल की हुई लोई में हवा लगेगी तो आटा कड़क हो जाएगा और बेलने में दिक्कत होगी।

लोई बनाए के बाद एक लोई को चकले पर रख कर बेलन से बेल ले, यदि तेल की जरूर पड़े तो लोई में थोड़ा सा तेल लगा कर भी बेल सकते है।

पूरी को न ज्यादा पतला न ज्यादा मोटा बेलना है, पूरी बेलने के बाद पूरी के सांचे के अंदर अच्छे से तेल लगा ले।

सांचे में तेल लगाने के बाद पूरी को सांचे में रखे और चम्मच से भरवन को पूरी के अंदर भर दे, भरवन भरने के बाद सांचे के किनारे जहा पूरी पर भी सांचे के किनारे आये, वहा पर हल्का हल्का पानी लगा कर सांचे को बंद कर दे और किनारे पर थोड़ा सा जोर लगा कर दबा दे ताकि गुजिया फ्राई करते समय कड़ाई में खुले न।

गुजिया बनाने की विधि

अब इसी तरह से वाकी के सारे गुजिया बना ले, जब सारे गुजिया बन कर तैयार हो जाए, तो 5 मिनट तक परात में ऐसे ही रखा रहने दे ताकि किनारे पर लगाया पानी सुख जाए और गुजिया अच्छे से जुड़ भी जाए।

अब कड़ाई को गैस पर रखे और कड़ाई में तेल डाले तेल इतना डालना जितने में गुजिया डूब जाए।

अब तेल को मीडियम गर्म होने दे जब तेल मीडियम गर्म हो जाए, तो गुजिया को कड़ाई में डाले और धीमी से थोड़ी सी तेज आंच में गुजिया को सुनहरा होने तक फ्राई करे।

जब गुजिया एक साइड से सुनहरा हो जाए तो गुजिया को पलट दे और दूसरी और से भी सुनहरा होने तक फ्राई कर ले।

जब दोनों तरफ से सुनहरे हो जाए तो गुजिया को बाहर निकाल ले और इसी तरह से धीमी से थोड़ी सी तेज आंच में वाकी के गुजिया भी फ्राई कर ले।

सारे गुजिया जब फ्राई हो जाए तो ठंडा हो जाने पर सर्व कर सकते है, इन्हे आप 12 से 15 दिन के ले कंटेनर में स्टोर कर सकते है इसमें मावा होने के कारण इन्हे ज्यादा दिन तक स्टोर नहीं किया जा सकता।

ये भी जाने –

यदि आप यहाँ दी गई रेसिपी से गुजिया बनायेगे तो बहुत ही खुसखुसे और स्वादिष्ट गुजिया बन कर तैयार होंगे और फ्राई करते समय यह कड़ाई में खुलेंगे भी नहीं।

उम्मदी है गुजिया बनाने की रेसिपी आपको पसंद आई होगी।

रेसिपी पसंद आई हो तो अपने दोस्तों के साथ जरूर शेयर करे।