सिरका खट्टे मीठे फलो के साथ ऐसीटिक अम्ल से रासायनिक परिवर्तन करने के बाद प्राप्त द्रव पदार्थ को सिरका कहा जाता है इसे बनाने के लिए अंगूर, संतरा, अनानास, गन्ना, सेव, ईख जैसे यदि फलो से बनाया जाता है।

सिरके का इस्तमाल कई तरह के व्यंजन बनाने में किया जाता है जिससे सब्जी आदि का स्वाद दो गुना बढ़ जाता है।

फ्रांसीसी व्यंजनों में सिरके का इस्तमाल पारम्परिक रूप से किया जाता है क्योकि यह ब्रिटिश का लोक प्रिय घटक है।

घर में सिरका बनाने की विधि

वैसे तो बाजार में कई ब्रांड के सिरके के छोटी बड़ी जरूरत के अनुसार शीशी मिल जाती है जिन्हे खरीद कर आप इस्तमाल कर सकते है यदि आप घर में सिरका बनाना चाहते है तो नीचे मैं आपको गन्ने के रस से सिरका बनाने की विधि शेयर कर रही हूँ आप इस विधि से घर में सिरका बना कर स्टोर कर सकते है।

गन्ने से सिरका बनाने के लिए आवश्यक सामग्री

  • गन्ने का रस : 1 कप
  • नई कील लोहे की : 1
  • कांच की बरनी : 1
  • सूती का कपड़ा : 1
  • बाउल : 1
  • लम्बे मुँह की कांच की सीसी : 1

गन्ने से सिरका बनाने की विधि

गन्ने का सिरका बंनाने के लिए हमें गन्ने के रस की जरूरत होती है।

एक कप गन्ने के रस को एक कांच की बर्नी में भर कर रख दे और 1 लोहे की किल को गन्ने के रस में डाल दे और बरनी का ढक्कन लगा कर बरनी को एक से दो महीने के लिए हल्के गर्म स्थान रख दे।

जब आप दो महीने बाद कांच की बरनी में रखे गन्ने के रस का रंग बदल जाएगा।

अब बर्नी में रखे गन्ने के रस को छानने के लिए एक बाउल के ऊपर सूती का कपड़ा डाले और बर्नी में रखे गन्ने के रस को छान ले, गन्ने का सिरका तैयार है स्टोर करने के लिए एक कांच की शीशी ले उसमे छन्ने हुए गन्ने के सिरके को भर कर स्टोर कर सकते है।

जब आप कांच की बरनी में गन्ने के रस को दो महीने के लिए स्टोर करेंगे और उसके बाद बर्नी ढक्कन जब आप खोलेंगे तो उसमे से तीव्र गंध आती है इसीलिए आप ये न सोचे की गन्ने का रस खराब हो गया है यह गंध किण्वन होने के कारण आती है।

सिरका का उपयोग

खाना बनाने में

सिरका का सबसे ज्यादा उपयोग खाना बनाने में किया जाता है जैसे सलाद का टेस्ट बढ़ाने के लिए, केक में नया फ्लेवर लाने के लिए, पनीर को नरम और लम्बे समय तक ताजा बनाये रखने के लिए।

फूलो को ताजा बनाये रखने के लिए

कटी हुई फूल की डाली में लगे फूल को ताजा बनाये रखने के लिए कांच के या किसी लम्बे बर्तन में पानी डाले और उसमे कटी हुई फूल की डाली को डाल दे अब इसमें एक चम्मच सफेद सिरका डाल दे ऐसा करने से फूल ज्यादा समय तक ख़राब नहीं होते है।

फ्रिज और फर्स साफ करने के लिए

यदि आपका फर्श संगमरमर और ग्रेनाइड की नहीं है तो आप साफ पानी में 1 चम्मच सफेद सिरके को मिला कर फ्रिज और फर्श को साफ कर दे यह फ्रिज से आ रही गंध को भी हटा देता है।

कपड़ो से दांग हटाने के लिए

यदि आपके कपड़ो में पसीने के दांग लगे है तो आप कपड़ो को धोने से पहले जहा भी पसीने के दांग लगे है वहा पर सिरके को स्प्रे करके छिड़के और कुछ देर ऐसे ही छोड़ दे दाग देखते ही देखते गायव हो जायेगे।

अंडो को सही तरीके से उबालने के लिए

अंडो को सही तरीके से उबालना सबके बस्की बात नहीं है क्योकि अंडे उबलते समय अपने सफेद छिलके से बाहर निकाल देता है अच्छे से नहीं उबलता है तो ऐसे में आप अंडे उबाले के लिए पानी में आधा चम्मच सिरका डाल दे ऐसा करने से अंडे अच्छे से उबलेंगे और सफेद भाग भी बाहर नहीं निकलेगा अंडा ठोस रहेगा।

हिचकी का इलाज करने

यदि आपको हिचकी ज्यादा आती है तो आप एक चम्मच सिरका को सीधे निगल जाए ऐसा करने एक से दो मिनट में ही आपको हिचकी आना बंद हो जायेगी।

खरपतवार समाप्त करने के लिए

आप अपने बगीचे में उगी खरपतवार को नष्ट करने के लिए जिसे खरतवार नाशक इस्तमाल करते है उसमे एक हिस्सा सिरका का होता है यह खरपतवार को नष्ट करता है।

सिरका खाने के फायदे

  • सिरका का सही मात्रा में इस्तमाल करने से रक्त को पतला किया जा सकता है जिससे ह्रदय से जुड़ी कई बीमारियों के शिकार होने से बचा जा सकता है।
  • यदि आपका वजन ज्यादा है और आप उसे एक निश्चित सीमा में रखना चाहते है तो आप डॉक्टर की सलाह ले कर सिरके का इस्तमाल अपने खाने में एक निश्चित मात्रा में रोज के खाने के साथ ले सकते है इससे कुछ ही दिनों में आप मोटापे से छुटकारा पा सकते है।
  • सिरका में पाए जाने वाले यौगिक आपके शरीर से विषैले पदार्थ निकालने में मदद करता है और आपके रक्त को साफ करता है।
  • डायबिटीज की समस्या को कम करने के लिए आप सिरका का इस्तमाल कर सकते है क्योकि इसमें एसिटिक एसिड अधिक मात्रा में पाया जाता है जो शरीर में इंसुलिन प्रभाव को सक्रिय करता है और ब्लड शुगर को नियंत्रित करने में मदद करता है।
  • गले की खरास हटाने के लिए आप एक गिलास पानी में एक चम्मच सेव का सिरका मिला कर उससे गरारे ले एक दो बार ऐसा करने से आपके गले की खरास दूर हो जायेगी।
  • सिरका यदि सिर के बाल झड़ रहे है ड्रन्ड्रफ रहता है जिससे खुजली होती है तो आप सप्ताह में दो दिन एक चम्मच सिरके से अपने बालो की जड़ो की मसाज करे एक या दो सप्ताह में ही आपके बाल झड़ना बंद हो जायेगे और ड्रेंड्रफ पूरी तरह से ठीक हो जाएगा।
  • यदि मास पेशियों में हमेशा दर्द रहता है तो आप सिरके से दर्द हो रही मास पेशियों की मसाज करेंगे तो कुछ ही दिन में आपको आराम मिल जाएगा।

सिरके का अधिक मात्रा में सेवन करने से होने वाले नुकसान

  • यदि आप सिरके का इस्तमाल सीधे मतलब किसी भी खाद्य या पेय के साथ मिला कर न करके उसे अकेले ही पी रहे है तो यह आपके दांतो को बहुत नुकसान पंहुचा सकता है क्योकि इसमें अधिक मात्रा में अम्ल होता है जो दांतो के लिए सही नहीं होता है।
  • यदि आप सेव के सिरके का इस्तमाल ज्यादा करेंगे तो आपके पेट में जलन हो सकती है साथ अपच की समस्या भी सकती है।
  • यदि आप इसे चेहरे पर या शरीर के भाग पर इस्तमाल कर रहे है तो चार से पांच घंटे तक किसी भी परफ्यूम या इत्र का इस्तमाल करे नहीं तो आपको इससे एलर्जी हो सकती है।
  • गर्भवती महिलाओ को सिरके का इस्तमाल करने से पहले डॉक्टर से सलाह जरूर लेनी चाहिए।
  • कुछ लोगो को सिरके से एलर्जी होती है जिसके कारण उन्हें साँस लेने में समस्या होती है इसलिए जिन्हे सिरके से एलर्जी है वे लोग इसका सेवन न करे।

सिरका फलो का बना होता है लेकिन इसे कुछ दिन रेस्ट कराने से इसमें किण्वन क्रिया होती है जिसके कारण इसमें कई जीव उत्पन्न हो कर इसमें ही समाप्त हो जाते है वैसे तो ये जीव हमारे शरीर के लिए फायदे मंद होते है लेकिन कुछ लोगो को इससे एलर्जी होती है इसलिए उन्हें उसका सेवन कम मात्रा में या फिर डॉक्टर की सलाह ले कर उन्हें सही मात्रा में इसका सेवन करना चाहिए।

इस आर्टिकल में गन्ने से सिरका बनाने की विधि और सिरका खाने से होने वाले फायदे और नुकसान के बारे में जानकारी शेयर की गई है आशा है आपको मेरा ये आर्टिकल पसंद आया होगा।

कृपया शेयर करे !