काढ़ा कैसे बनाते है। काढ़ा पीने के फायदे

आज के इस आर्टिकल में इम्युनिटी सिस्टम को मजबूत बनाने के लिए काढ़ा बनाने की रेसिपी जानेगे।

हर किसी को अपनी इम्युनिटी सिस्टम को मजबूत बनाये रखना बहुत जरुरी है प्रत्येक तरह की बीमारी का इलाज करने के लिए कम से कम दिन में दो बार यह काढ़ा बना कर पिए।

यहाँ बताई गई काढ़ा बनाने की रेसिपी चाय जैसी ही है आप इसे रोज चाय की जगह पर बना कर पिए और कुछ ही समय में अपने शरीर पर इसका असर देखे।

तो देखते है काढ़ा कैसे बनाते है।

काढ़ा बनाने की आवश्यक सामग्री

  • पानी : 1 गिलास
  • तेज पत्ता : 1
  • तुलसी के पत्ता : 15 से 20
  • लौंग : 5
  • काली मिर्च : 5 पीसी हुई
  • दालचीनी : 1 छोटा टुकड़ा
  • हल्दी : 1/2 चम्मच
  • अदरक : 1 इंच कद्दूकस किया हुआ
  • शहद : 2 से 4 चम्मच
  • नींबू का रस : 1 टेबल स्पून

काढ़ा बनाने की विधि

काढ़ा बनाने के लिए सबसे पहले दालचीनी, काली मिर्च, लौंग, तेज पत्ता, अदरक और तुलसी के पत्तो को कूट ले।

अब एक पैन में दो कप पानी गर्म करे जब पानी गर्म हो जाए तो उसमे हल्दी पाउडर और पीसे हुए मसाले डाले और अब पानी को आधा होने तक पका ले।

जब पानी उबलकर आधा बचे तो गैस बंद कर और उसमे नींबू का रस और शहद मिला लेकाढ़ा तैयार है।

काढ़े का इस्तेमाल करने के लिए काढ़े को थोड़ा होने रख उसके बाद पिए।

काढ़े का सेवन सुबह खाली पेट और रात में सोने से पहले करना है।

काढ़ा पिने के फायदे

  1. काढ़े में पर्याप्त मात्रा में एंटीऑक्सीडेंट होता है जो इम्युनिटी सिस्टम को मजबूत बनाता है।
  2. काढ़ा बनाने के लिए उपयोग की जाने मसालों की तासीर गर्म होती है जिस कारण यह शरीर को गर्म रखता है।
  3. सर्दी के मौसम में काढ़ा पीने से मांशपेशियों की सूजन को कम करता है।
  4. इसमें उपयोग किये गर्म अदरक में एंटी एलर्जी गुण होते है जो शरीर को कई तरह की एलर्जी से बचाता है।
  5. सर्दी के मौसम में सिरदर्द करने पर काढ़े का उपयोग करने से सिर दर्द में आराम मिलता है।

काढ़ा पीने के नुकसान

  1. यदि आप गर्मी के मौसम में इम्युनिटी सिस्टम को मजबूत करने के लिए रोज काढ़ा बना कर पी रहे है तो आप ऐसा न करे क्योकि इसमें डाली गई सामग्री की तासीर गर्म होती है जो गर्मी के समय हमें पीसे शरीर में तापमान बढ़ा देरी है जो सेहत के लिए हानिकारक होता है।
  2. यदि आप सर्दी के मौसम में भी रोज इस काढ़े इस्तेमाल कर रहे है और आप बी पी या नाक से जुडी बीमारी के मरीज है तो इस काढ़े को पीने से नाक से खून भी आ सकता है।
  3. अधिक मात्रा में सेवन करने मुँह के अंदर छोटे छोटे दाने आ सकते है जो कुछ दिनों बाद छालो में बदल सकते है।
  4. यदि आपको ज्यादा खट्टी डकारे आती है तो आपको काढ़े का सेवन नहीं करना चाहिए।
  5. यदि आप रोज इसका सेवन कर रहे है तो हो सकता है आपको पेशाब करते समय जलन का अनुभव हो।

ये भी जाने :-

उम्मीद है हमारे द्वारा शेयर की काढ़ा बनाने की रेसिपी आपको पसंद आई होगी।

यदि आप किसी मरीज को इस तरह का काढ़ा बना कर पिलायेंगे तो वह कुछ ही दिनों में ठीक हो जाएगा।

हमारी यह पोस्ट पसंद आई हो तो कमेंट करके जरूर बताये और अपने दोस्तों के साथ सोशल मीडिया पर जरूर शेयर करे।