गुलाब जामुन बनाने की विधि

इस पोस्ट में गुलाब जामुन बनाने की रेसिपी शेयर की गई है।

रसगुल्ले का तो नाम सुनते ही मुँह में पानी आ जाता है फिर चाहे छेने का बना रसगुल्ला हो या मावे से बने हुए ठंडे ठंडे गुलाब जामुन यह होते ही इतने लजीज।

मावे के रसगुल्ले को आप आसानी से घर में बना सकते है यदि आपकी रसोई में दूध नहीं है मावा नहीं है फिर भी आप बहुत ही आसनी से इन्हे घर में बना सकते है।

इस पोस्ट में आप काले दिखने वाले मावे के रसगुल्ले दो तरह से बनाने की रेसिपी जानेगे, जिसमे आपको एक विधि से रसगुल्ले बनाने के लिए मावे की जरूरत होगी और दूसरी विधि से रसगुल्ले बनाने के लिए दूध पाउडर मतलब मिल्क पाउडर की जरूर होगी।

तो चलिए रसगुल्ले बनाने की रेसिपी शुरू करते है।

सबसे पहले तो मैं आपको मावे से रसगुल्ले बनाने की विधि बताऊगी।

मावे से रसगुल्ले बनाने की सामग्री

  • मावा : 300 ग्राम
  • गेहूँ का आटा : 4 चम्मच टी स्पून
  • इलायची : 2
  • चीनी : 3 कप
  • पानी : 4 कप
  • मीठा सोडा : 1/4 चम्मच
  • तेल : जितने में रसगुल्ले डूब कर अच्छे से सिक जाए
  • पानी : आवश्यकता अनुसार
  • दूध : 3 छोटी चम्मच
  • कढ़ाई
  • सॉस पैन या पतीला

मावे से गुलाब जामुन बनाने की विधि

मावे से गुलाब जामुन बनाने के लिए एक बर्तन में मावे को रख कर हथेली से अच्छे से मैश करे ताकि मावे की एक भी गुठली न रहे।

जब मावा अच्छे से मिक्स हो जाए तो उसमे गेहूँ का आटा जिससे आप रोटियां बनाते है उसे माप कर चार टेबल स्पून मावे में डाले और सोडा डालकर तीनो को अच्छे से मिक्स कर ले।

जब ये तीनो अच्छे से मिक्स हो जाए और आपको तीनो का मिश्रण सूखा लगे तो हाथो में थोड़ा सा पानी लगा कर मिश्रण को मसल कर मिक्स करे।

मावे और आटे के मिश्रण को अच्छे से मिक्स करते हुए पूरे बनाने वाले आटे के जैसा गुथना है।

जब मावा और आटा अच्छे से मिक्स हो जाए तो मिश्रण से छोटे-छोटे बॉल बना ले।

जब बॉल बन जाए तो कढ़ाई में घी या तेल डाले जितने में बॉल अच्छे से डूब जाए।

अब तेल को मीडियम गर्म करना है।

जब तेल मीडियम गर्म हो जाए तो बॉल को तेल में डाल दे और गैस की आंच कम कर दे, कम आंच में ही गुलाब जामुन फ्राई करना है।

गुलाब जामुन को कढ़ाई में अलट पलट करते रहना है ताकि सारे गुलाब जामुन का कलर एक जैसे हो।

जब गुलाब जामुन फ्राई हो जाए तो उन्हें एक प्लेट में निकाल ले और ठंडा होने रख दे।

इसी तरह सारे बॉल को तेल में धीमी आंच में फ्राई कर ले और ठंडे होने रख दे।

गुलाब जामुन बनाने के बाद इन्हे रस से भरा बनाने के लिए चाशनी बनायेगे।

अब आप एक पतीले में या सॉस पैन में 4 कप पानी और 3 कप चीनी डालकर गैस की आंच पर चाशनी बनाने के लिए रख दीजिए।

गैस की आंच धीमा रखे और चीनी को घोलने के लिए चमचे से चलाते रहे ताकि चीनी घुल जाए और पतीले में चिपके भी न।

चीनी जब पूरी तरह से घुल जाए तो कुटी हुई इलायची, तीन चम्मच दूध डाल दे और गैस की आंच तेज कर दे और चाशनी को पकने दे।

पानी और चीनी को एक तार होने तक या फिर उंगलियों से चेक करने पर वह हाथ में चिपके इतना गाड़ा होने तक पकाना है।

जब चाशनी हाथ से चेक करने पर हाथ में चिपकने लगे तो गैस को बंद कर और एक छन्नी से चाशनी को छान ले, ऐसा करने से चीनी में से काला काला निकलता है वह साफ हो जाता है और चाशनी एकदम साफ हो जाती है।

चाशनी को छानने के बाद 1 मिनट के लिए और गैस की तेज आंच में पका ले।

1 मिनट पकाने के बाद गैस को बंद कर और चाशनी में गुलाब जामुन डाल दे।

1 से 2 घंटे बाद आप चेक कर सकते है सारे गुलाब जामुन अच्छे से चाशनी सोख लेंगे।

मावे के बने गुलाब जामुन

मावे से इस तरह गुलाब जामुन बना सकते है।

अब मैं आपको बताऊगी मावा न होने पर मिल्क पाउडर से गुलाब जामुन कैसे बनाते है।

मिल्क पाउडर से गुलाब जामुन बनाने की विधि

मिल्क पाउडर से गुलाब जामुन बनाने के लिए सामग्री

  • मिल्क पाउडर : 100 ग्राम
  • मैदा या सूजी : 50 ग्राम
  • दूध : 1 कप
  • घी : 2 चम्मच
  • तेल : गुलाब जामुन फ्राई करने के लिए
  • सोडा : 1 चुटकी

चाशनी बनाने के लिए सामग्री

  • पानी : 2 कप
  • चीनी : 1 कप
  • इलायची पाउडर : 1/4 चम्मच
  • केसर : चुटकी भर

मिल्क पाउडर से गुलाब जामुन बनाने की रेसिपी

एक बर्तन में मिल्क पाउडर, मैदा और सोडा डालकर मिक्स कर ले।

एक कढ़ाई में घी डालकर पिघला ले।

जब घी पिघल जाए तो उसमे दूध डालकर अच्छे से मिला ले।

जब दूध और घी अच्छे से मिल जाए तो गैस को बंद कर दे, दूध गर्म हो गया होगा उसे ठंडा होने रख दे।

जब दूध ठंडा हो जाए तो दूध को थोड़ा थोड़ा कर के मिल्क पाउडर और मैदा डालकर अच्छे से मिक्स कर ले, एक साथ पूरा दूध न डाले नहीं तो मिश्रण गिला हो जाएगा।

मिश्रण को थोड़ा सख्त ही गुथना है ताकि बॉल बनाते बन जाए।

जब मिश्रण अच्छे से मिक्स हो कर गूथ जाए तो उससे छोटे छोटे बॉल बना ले।

जब सारे मिश्रण से बॉल बन जाए तो एक प्लेट में रख ले और कढ़ाई में तेल डालकर मीडियम आंच में तेल को मीडियम गर्म करे।

जब तेल मीडियम गर्म हो जाए तो गैस की आंच कम कर दे और बॉल को तेल में डाल दे।

अब धीमी आंच में चमचे से चलाते हुए गुलाब जामुन को फ्राई कर ले।

जब लाल रंग के हो जाए तो उन्हें कढ़ाई में से निकाल कर एक प्लेट में रख ले।

अब तेल को मीडियम गर्म करके गुलाब जामुन डाल दे और आंच को कम कर दे और गुलाब जामुन को इसी तरह से सारे गुलाब जामुन लाल होने तक फ्राई कर ले।

अब एक पतीले में पानी, इलायची पाउडर और चीनी डालकर केसर डाले और चाशनी को गाढ़ा होने तक पका ले।

जब चाशनी गाढ़ी हो जाए तो गैस को बंद कर दे और चाशनी को थोड़ा ठंडा होने दे तेज गर्म चाशनी में गुलाब जामुन नहीं डालने नहीं तो ज्यादा नरम हो जाए और खाने में अच्छे नहीं लगेंगे।

जब चाशनी ठंडी हो जाए तो गुलाब जामुन ढाल दे और दो से तीन घंटे के लिए साइड में रख दे ताकि रसगुल्ले रस को सोख ले।

मिल्क पाउडर के बने गुलाब जामुन

दो घंटे बाद या आप चाहे तो गरमा गर्म गुलाब जामुन खा सकते है।

ये जाने :-

आशा है आपको गुलाबा जामुन बनाने की दोनों रेसिपी पसंद आई होगी।

रेसिपी पसंद आई हो तो अपने दोस्तों के साथ जरूर शेयर करे।