आम से जुडी महत्वपूर्ण जानकारी

नमकस्कार दोस्तों आज के इस आर्टिकल हम आम जिसे फलो का राजा कहा जाता है उसके बारे में बात करने वाले है।

आम का स्वाद सभी को बहुत पसंद होता है बहुत कम लोग होते है जो इसे खाना पसंद नहीं करते, आम बनी चटनी और आचार दोनों ही बाजार में बहुत अधिक मात्रा में बेचे जाते है।

तो चलिए अब हम आप फलो के राजा मतलब आम के बारे में पुरी जानकारी पढ़ते है।

आम 

आम फलो में सबसे ज्यादा पसंद किये जाने वाले फल जो ग्रीष्मऋतु में खाने को मिलता है।

यह फल चार रंगो का हरा, नारंगी, लाल और पीला होने के साथ अलग अलग आकार का होता है।

आम के फल सब्जी,आचार, जूस और चटनी आदि बनाई जाती है इसे 5000 साल पहले से उगाये गए थे, इसे बांग्लादेश का राष्ट्रीय फल कहा जाता है।

आम के पत्तो का उपयोग मधुमेह, ब्लड प्रेशर और किडनी स्टोन जैसे बीमारियों का इलाज करने में सहायक होती है।

आम कितने प्रकार के होते है 

आम की 15 प्रकार के होते है जिन्हे अलग अलग प्रकार के होते है यह अलग अलग जगह पर उगाया जाता है प्रत्येक आम स्वाद अलग अलग प्रकार होता है।

(1) दशहरी आम –

दशहरी आम आपने जरूर खाया होगा यह दुनियाभर भर में प्रसिद्ध आम है इसे ही आम का राजा कहा जाता है।

दशहरी आम की सबसे बड़े पैमाने पर खेती लखनऊ की मलिहाबाद इलाके में की जाती है।

(2) लंगड़ा आम

इस आम को लंगड़ा आम इसलिए कहा जाता है क्योकि जिस आम उगाने वाले पहले किसान का एक पैर नहीं था।

लंगड़ा आम प्रसिद्ध आम की किस्म में से है यह आम के मौसम में जुलाई अगस्त तक खाने को मिलता है, यह आम बनारस और उत्तर प्रदेश में उगाये जाने वाले आम जो पकने के बाद भी हरे रंग का रहता है।

(3) तोतापुरी आम

इस आम का आकार और रंग तोते की तरह होता है इसलिए इसके रंग और महक के लिए दोनों की खासियत के लिए यह आम प्रसिद्ध होता है।

यह आम तेंलगाना, आंधप्रदेश और कर्नाटक में उगाया जाता है यह आम अन्य आम की तरह उतना मीठा और रसीला नहीं होता है, इसका स्वाद खट्टा होने के कारण इसका अचार बहुत पसंद किया जाता है।

(4) रसपरी आम

रसप भरी आम को आम की रानी कहा जाता है इस आम को मई से जून तक बाहर में अधिक मात्रा में मिलते है।

रसपूरी आम कर्नाटक के मसूरी जिले में इस आम को अधिक मात्रा में उगाया जाता है।

(5) चौसा आम

चौसा आम बाहर से दिखने में चमकीले रंग का होता है जिसका स्वाद खाने में मीठा होता है इसका नाम चौसा बिहार के एक प्रसिद्ध शहर के नाम पर रखा गया है।

(6) सिंधुरा आम

सिंधुरा आम बाहर से लाल और अंदर से पीला होता है यह आम मीठा और खटास लिए पहले से ही होते है जिनका स्वाद और महक दोनों ही ख़ास होते है इस आम उपयोग भी आम शेक बनाने में कर सकते है।

(7) हिमसागर आम

इस किस्म के आम का पल्प पीले रंग का और स्वाद मीठा होने के कारण इसे शेक बनाने में सबसे ज्यादा उपयोग किया जाता है।

इस आम का आकर छोटा लेकिन वजन में 250 ग्राम होता है इस किस्म के आम को उड़ीसा और पश्चिम बंगाल में सबसे ज्यादा उगाया जाता है।

(8) हापुस आम

इस आम की मुख्य विशेषता यह है इसकी छिलके में फाइबर नहीं होता है जिसका रंग भगवां होता है।

यह सबसे महंगी किस्म के आमो में से है यह सबसे ज्यादा महाराष्ट्र के आलावा गुजरात और कर्नाटक के कुछ हिस्सों में उगाया जाता है।

(9) बंगीनापल्ली आम

बंगीनापल्ली आम का रंग पीला होता है यह अंडाकार का होता है जिसकी लम्बाई लगभग 14 सेमी होती है मतलब अल्फांसो आम की तुलना में बड़ा होता है।

(10) रत्नागिरी आम

रत्नागिरी आम की मुख्य पहचना सिर की तरफ लाल रंग होना ही होती है, यह आम भारत की सबसे अच्छी किस्मो में से है इस आम का वजन 150 से 300 तक होता है।

यह भारत के महाराष्ट्र के देवगढ़, रायगढ़, रत्नागिरी और कोंकण में सबसे ज्यादा पाए जाते है।

(11) मालगोवा आम

मालगोवा आम का आकार गोल होता है यह आम हरे रंग के होते है यह मई जून के महीने तक आपको खाने को मिलते रहते है।

(12) माल्दा आम

बिहार में उगाये जाने वाले माल्दा आम जिसमे एक भी रेशा नहीं होता है इसे आम का राजा कहा जाता है इस आम का स्वाद खट्टा मीठा होता है इसलिए इसकी चटनी और अचार दोनों ही बहुत पसंद किये जाते है।

(13) केसर आम

केसर आम सबसे महंगे किस्म के मांगो में से जिस तरह इसका नाम केसर है इसकी महक भी केसर की तरह ही होती है इसे सबसे ज्यादा गुजरात के आस पास क्ष्रेत्र में उगाया जाता है।

(14) नीलम आम

नीलम किस्म के आम का रंग नारंगी और आकार छोटा होता है जो देश के हर हिस्से में उगाया जाता है यह आम जून मतलब आम के मौसम में सबसे बाद मिलने वाला आम है।

आम का वैज्ञानिक नाम

आम जिसे फलो का राजा कहा जाता है इसका टेस्ट और खट्टा मीठा होने के कारण सभी को बहुत पसंद होता है।

इसे अलग अलग भाषा में अलग अलग नामों से जाना जाता है इसीलिए वैज्ञानिक भाषा में आम का नाम मेंगीफेरा इंडिका है।

आम नाम के इस फल का सबसे ज्यादा उत्पादन भारत में ही किया जाता है।

आम का महत्व

आम एक ऐसा फल है जिसका उपयोग सबसे ज्यादा खाने में किया जाता है आम से बना अचार, मुरब्बा, चटनी, शेक, जूस आदि सालो तक पैक करके सेल किये जाते है।

आम बने खाद्य सभी बहुत ही चाव से खाते है इससे बने खाद्य किसी भी तरह से खाने में हानिकारक नहीं होता है यह पाचन में बहुत ही सहायक होता है।

आम में उपस्तिथ विटामिन K और विटामिन C दोनों ही वाहिकाओं और हेल्दी कोलेजन के विकाश के लिए बेहद महत्वपूर्ण होती है।

यदि आप रोज सुबह के नाश्ते के 1 घंटे बाद आम एक टुकड़ा या आम के जूस का सेवन करते है तो आपके शरीर में पोटैशियम, मैग्नीशियम और कॉपर जैसे तत्व भरपूर मात्रा में पहुंच जाते है जो आपको दिन भर तरोताजा और स्वस्थ बनाये रखने में मदद करता है।

आम के औषधीय गुण

आम में निम्नलिखित औषधीय गुण पाए जाते है –

  1. आम खाने के बाद भूख कम लगती है इसके अलावा इसकी जो गुठली होती है वह अतिरिक्त चर्बी को कम करने में बहुत फायदेमंद होती है इसलिए आम एक अच्छा उपाय है मोटापा कम करने का।
  2. आम की गुठली की गिरी का रस नाक में डालने से नाक से खून नीलना तुरंत बंद हो जाता है।
  3. आम के ताजे और हरे पत्ते का रस गुनगुना करके कान में डालने से कान का दर्द ठीक हो जाता है।
  4. नपुंसकता की समस्या होने पर आम के रस में शहद मिला कर प्रतिदिन सुबह खाली पेट एक महीने एक सेवन करने से आपको इस समस्या से आराम मिलता है।
  5. आम में ग्लूटामिन नामक एक एसिड पाया जाता है जो एक ऐसा तत्व है जो आपकी स्मरण शक्ति को बढ़ाता है और रक्त कोशिकाओं सक्रिय करता है जिन लोगो को भूलने की बीमारी हो उन्हें आम खाने की सलाह देनी चाहिए।
  6. जिन लोगो को बार बार यूरिन रुकने की समस्या है वह आम की जड़, शीशम के पत्ते और चीनी को साथ में मिला कर उबाल ले काढ़ा बना कर सेवन करे आपको थोड़ी देर में ही आराम मिल जाएगा।
  7. दमे की शिकायत होने पर आम की गुठली की गिरी को पानी के साथ मिला सुबह खाली पेट सेवन करने से कुछ ही दिनों में दमे की समस्या से छुटका मिल जाता है।
  8. चेहरे पर चमक लाने के लिए आम के गूदे का पैक बना कर चेहरे पर लगाने से चेहरे की चमक बढ़ती है।
  9. बच्चो या बड़ो के पेट में कीड़े हो जाने पर आम की गुठली को पीस कर खाने से पेट के कीड़े निकलाने जाते है।
आम खाने के फायदे
  1. आम में उपस्तिथ टरटैरिक और साइट्रिक एसिड शरीर के भीतर क्षारीय तत्वों को संतुलित बनाये रखता है, और आम में कई ऐसे एंजाइम उपस्तिथ होते है जो प्रोटीन को जटिल रूप से सरल रूप में आसानी से परिवर्तित कर देता है।
  2. शरीर में उपस्तिथ खराब कोलेस्टॉल कप नियंत्रित करने के लिए इसमें फायबर और विटामिन सी भरपूर मात्रा में होते है।
  3. शरीर में उपस्तिथ खराब कोलेस्टॉल कप नियंत्रित करने के लिए इसमें फाइबर और विटामिन सी भरपूर मात्रा में होते है।
  4. आम विटामिन सी के अलावा विटामिन ए भी भरपूर मात्रा में होता है इसलिए आँख से सबंधित बिमारी को ठीक करने के लिए और आँखों की चमक बढ़ाने के लिए आम की सलाह दी जाती है।
  5. आम के पत्तो में कैंसर विरोधी गुण पाए जाते है जो कैंसर से लड़ने में सहायक होते है इसलिए आप इसके पत्तो का सेवन रोज किसी न किसी समय कर सकते है।
  6. आम का निश्चित मात्रा में सेवन करने से इसमें उपस्तिथ पोषक तत्व आपकी दिल से जुड़ी समस्याओ को ठीक करने में सहायक होता है।
आम खाने के नुकसान
  1. यदि आप आम का सेवन एक निश्चित मात्रा से अधिक करते है तो आपको दस्त की समस्या हो सकती है क्योकि इसमें उपस्तिथ फाइबर अधिक मात्रा में होता है जो दस्त का कारण बन जाता है।
  2. रसीले और मीठे आम में शुगर की मात्रा अधिक होती है इसके स्वाद के चक्कर में इसका ज्यादा सेवन करने से शरीर में शुगर लेबल बढ़ जाता है इसलिए शुगर के मरीज को आम का सेवन एक निश्चित मात्रा में करना चाहिए।
  3. आम की तासीर गर्म होती है यदि आप आम का सेवन अधिक मात्रा में करते है आपके चेहरे पर फोड़े, फुंसिया और मुहासे निकालने का कारण बन सकते है।
  4. कुछ लोगो को आम खाने पेट दर्द, छींक आना, नाक बहने जैसे एलर्जी हो सकती है इसलिए आम का सेवन एक निश्चित मात्रा में करे।
  5. आम में उपस्तिथ कैलोरीज आम का अधिक सेवन करने से हमारे शरीर में इसकी मात्रा बढ़ जाती है जो हमारे शरीर का वजन बढ़ने का कारण बनता है, यदि आप वजन कम करना चाहते है तो आप आम का सेवन कम करे।
आम के फूल के फायदे
  1. पेट में गैस यानि एसिडिटी होने पर कई बार सीने में जलन, सिर दर्द और उल्टी जैसी आम समस्याएं होती है ऐसे में यदि आपके पास आम का फूल है तो आप इसके रस को निकाल कर पी सकते है और कुछ ही देर में एसिडिटी में राहत पा सकते है।
  1. यदि आपको डिहाइड्रेशन स्ट्रोक और अधिक गर्मी होने पर बिना काम किये थकान हो जाती है तो आप फूल का रस निकाल कर या आम के फूल को एक गिलास पानी में डालकर रात भर के लिए फ्रिज में रख दे और सुबह उठ कर उस पानी को खाली पेट किये ऐसा आपको प्रत्येक दिन और लगातार 15 दिन तक करना है कुछ ही दिनों में आपको डिहाइड्रेशन की समस्या से निजात मिल जाएगा।
  2. यदि आप मोटे है और अपने शरीर में रुके विषैले पदार्थ और कोलेस्ट्रॉल को कम करना चाहते है तो आप 15 दिन तक रोज रात में एक गिलास पानी में आम के फूल का रस मिला कर इसका सेवन खाली पेट करे आपका वजन कुछ ही दिनों में कम हो जाइएगा। आम के फूल का रस शरीर में जमे ख़राब कोलेस्ट्रॉल को बाहर निकाल देता है।
  3. नकसीर या नाक से खून निकलना एक आम बात है ऐसे में आप आम के फूल को सूघ कर नकसीर की समस्या में राहत पा सकते है।
  4. डायबिटीज से पीड़ित व्यक्ति को आप ताजे आम के फूल का सेवन रोज सुबह करा सकते है और यदि आपके पास ताजे फूल नहीं है तो आप इसके सूखे फूलो का पाउडर बना कर इसका सेवन रोज सुबह करा सकते है।

इस तरह अब आप जान गए होंगे आम सबंधित जानकारी उम्मीद है आप समझ गए होंगे की आम हमारे लिए कितना फायदेमंद है।

ये भी जाने :-

आम से जुडी जानकारी पसंद आई हो तो कमेंट करके जरूर बताये और इससे जुड़े और प्रश्नो के उत्तर पता करने हो तो आम हमसे पूछ सकते है।