व्रत में बनाये साबूदाना बिरयानी। sabudana biryani

नवरात्रि एक ऐसा त्यौहार होता है जो लगातार 9 दिन तक चलता है हिन्दुधर्म के लोग इन नौ दिनों लगातार व्रत करते है जिसमे इन्हे रोज कुछ न कुछ अलग अलग फलाहार करने को दिया जाता है यदि आप भी नवरात्रि के दिन का व्रत करते है तो आप साबूदाना बिरयानी को अपने व्रत स्पेशल में शामिल कर सकते है।

अब आप सोच रहे होंगे की साबूदाना बिरयानी का टेस्ट साबूदाना की खिचड़ी के जैसा होगा, लेकिन ऐसा नहीं है साबूदाना बिरयानी साबूदान खिचड़ी से बिल्कुल अलग होता है इसे बनाने के लिए गाजर, आलू, चुकंदर, नारियल ड्राईफूड आदि का उपयोग किया जाता है।

तो चलिए साबूदाना बिरयानी बनाने की पूरी रेसिपी जानते है।

साबूदाना बिरयानी बनाने के लिए आवश्यक सामग्री

  • साबूदाना – 1 कटोरी
  • गाजर – 1 कप बारीक़ कटी हुई
  • आलू – 1 मीडियम साइज छोटे टुकड़ो में कटे हुआ
  • चुकंदर – 1/2 बारीक़ कटा
  • हरी मिर्च – 2 चीरा लगी हुई
  • मूंगफली – 1/2 कप
  • ड्राई फ़ूड – 2 चम्मच
  • जीरा – 1 चम्मच
  • सौंप – 1/2 चम्मच
  • नारियल – 2 चम्मच बारीक़ कटा हुआ
  • हरी धनिया – 1 छोटी चम्मच बारीक़ कटी
  • सेंधा नमक – 1/2 छोटी चम्मच
  • अनारदाना पाउडर 1 बड़ा चम्मच
  • घी या मूंगफली का तेल – 1 चम्मच
  • अमचूर पाउडर – 1/2 छोटी चम्मच

साबूदाना बिरयानी बनाने की विधि

साबूदाना बिरयानी बनाने के लिए सबसे पहले साबूदाना में देख ले कचरा तो नहीं है।

कचरा साफ करने के बाद बाउल में डाले और एक गिलास पानी डाले अब 4 घंटे लिए भिगो कर रख दे।

4 घंटे बाद साबूदाना को एक छन्नी में निकाल ले ताकि पानी छट कर अलग हो जाए।

एक कढ़ाई में तेल या घी डाले और गैस की आंच पर गर्म होने रख दे।

जब तेल गर्म हो जाए तो मूंगफली को भून ले और एक प्लेट में निकाल ले।

मूंगफली निकालने के बाद जीरा और सौप डाले जीरा पुटक जाए तो हरी मिर्च डाले उसके बाद आलू, गाजर और चुकंदर डाले और चमचे से चलाते हुए नरम होने तक भून ले।

जब आलू, गाजर सेंधा नमक और चुकंदर नरम हो जाए तो भिगा हुआ साबूदाना डाले और भुनी हुई मूंगफली डाले और चमचे से मिक्स करे।

सारी सामग्री मिक्स करने के बाद सेंधा नमक, अमचूर पाउडर और काली मिर्च पाउडर मिक्स कर और 2 मिनट तक धीमी आंच में चमचे से चलाते साबूदाना को पकाये और गैस को बंद कर दे।

गैस बंद करने के बाद हरी धनिया और अनारदाना पाउडर डालकर मिक्स करे।

साबूदाना बिरयानी तैयार है आप ताजे और खट्टे दही के साथ गरमा गर्म खा सकते है सर्व कर सकते है।

ये भी जाने –

रोज रोज एक ही फलाहार खाने से परेशान है तो अपनी व्रत की लिस्ट इस व्रत वाली बिरयानी को जरूर शामिल करे आपको बहुत पसंद आएगी।

उम्मीद साबूदाना बिरयानी बनाने की रेसिपी आपको पसंद आई होगी।