नमक सोडियम कैल्शियम का बना एक ऐसा यौगिक है जिसके बिना खाने के कल्पना भी नहीं की जा सकती है।

नमक तीन प्रकार का होता है जिसमे रसोई सबसे ज्यादा सफेद नमक का इस्तमाल किया जाता है जो दिखने में छोटे घनाकार का और क्रिस्ट के रूप में होता है।

नमक उत्पाद समुद्र के खारे जल से किया जाता है नमक बनाने के लिए समुद्र के किनार जमीन पर छोटी-छोटी क्यारी बना दी जाती है जिसमे लहरों से आने वाला पानी भर जाता है कुछ दिन बाद पानी सुख जाता और खनिज लवण आदि नीचे सफेद परत के रूप में जम जाते है।

जमी हुई सफेद परत को इकठा करके कचरे को साफ किया जाता है और फिर नमक को बोर में भर लिया जाता है।

नमक का सेवन कम या ज्यादा मात्रा में सेवन करने से हमारे शरीर पर बहुत प्रभाव पड़ता है मैं आपको नमक कम और ज्यादा मात्रा में खाने पर हमारे शरीर में क्या-क्या होता है उसे के बारे में जानकरी देंगे।

नमक अधिक मात्रा में सेवन करने से शरीर पर पड़ने वाले प्रभाव

हाई बी पी – यदि आप एक निश्चित मात्रा से अधिक नमक खा रहे है तो आपके शरीर में रक्त के बहाव की गति तेज हो जाती जिसके कारण आप जब भी कोई कार्य करते है तो थोड़ी ही देर में थक जाते है जल्दी थकने का सबसे बड़ा कारण रक्त का तेज बहाव होता है इसे हाई ब्लड प्रेशर कहा जाता है।

गुर्दे में पथरी का बनना – यदि आपको पथरी की समस्या है तो आप समझ जाय की आप निश्चित मात्रा से ज्यादा नमक का सेवन कर रहे है क्योकि जब आप अधिक मात्रा में नमक का सेवन करते है तो आपके यूरिन में कैल्शियम के मात्रा बड़ जाती जो धीरे-धीरे गुर्दे में पत्थर का रूप ले लेती जिसे पथरी कहा जाता है।

डिहाइड्रेशन की समस्या – यदि आप अधिक नमक खाते है तो आपको डिहाइड्रेशन की समस्या हो सकती है और यदि एक बार आप डिहाइड्रेशन के शिकार हो गए तो आप कई तरह की बीमारियों के शिकार हो सकते है इसीलिए आपको एक निश्चित मात्रा में ही नमक का सेवन करना चाहिए।

हार्ट अटैक – जब आप अधिक नमक इस्तमाल अपने खाने में करते है तो सबसे पहले आपको हाई बी पी की समस्या होगी इसका अर्थ होता है रक्त का तेज गति से प्रवाहित होना।

जब हमारे शरीर में रक्त तेज गति से प्रवाहित होता है तो सबसे ज्यादा ह्रदय को कार्य करना पड़ता है जैसे रक्त जल्दी-जल्दी साफ करने के अधिक मात्रा में साफ करना पड़ता है जिससे स्ट्रोक जैसे समस्या हो सकती है और आपका ह्रदय कभी भी काम करना बंद कर सकता है।

बजन बढ़ना – जैसे की मैंने आपको बताया नमक सोडियम कैल्सियम का बना क्रिस्टल है जिस तरह कैल्शियम अधिक मात्रा में जाने पर पर हमारे शरीर में पथरी की समस्या हो सकती है उसी तरह सोडियम भी अधिक मात्रा में जाने पर हमारे शरीर में फैट जमा करता जिससे हमारा शरीर फूलना शुरू हो जाता है और बजन बढ़ना शुरू हो जाता है।

नमक कम मात्रा में सेवन करने से शरीर पर पड़ने वाले प्रभाव

डायबिटीज – नमक कम मात्रा में खाने से सीधा असर हमारे शरीर में पाए जाने इन्सुलिन पर पड़ता है नमक की सही मात्रा हमारे शरीर में इन्सुलिन संवेदशील होते है जिससे कार्य करनी की क्षमता बढ़ाते है।

यदि आप कम मात्रा में नमक का सेवन कर रहे तो इंसुलिन संवेदनशील नहीं होते है जिससे आपके शरीर में शर्करा की मात्रा बड़ जाती है और आप डायबिटीज के शिकार हो सकते है।

कोलेस्ट्रॉल – नमक कम मात्रा में लेने पर हमारे में शरीर में कोलेस्ट्रॉल बढ़ने लगता है जिसका सीधा असर हमारे ह्रदय पर पड़ता है।

शरीर में कोलेस्ट्रॉल बढ़ने से सीने में दर्द रक्त का प्रवाह कम हो जाता है जिससे ह्रदय से जुडी कई सारी बीमारियों के शिकार हो सकते है।

लो ब्लडप्रेशर – लो ब्लडप्रेशर का मतलब होता रक्त का बहाव धीमी गति से होना, जब रक्त धीमी गति से बहता है तो अचानक हमारा शरीर शून्य अवस्था में आ जाता है जिससे हमे चक्कर आने लगते है आँखो के सामने अंधेरा छा जाता है।

यदि आप जरूरत से कम नमक का सेवन करते है तो आपके शरीर में पानी की कमी भी जाती है जिससे आपके शरीर में सूजन आना शुरू हो जाती रक्त से पानी बनने लगता है और ऐसी कई समस्या सामने आने लगती है।

ह्रदय में सूजन – यदि आप परिश्रम अधिक करते है तो आपके शरीर में नमक सही मात्रा बहुत जरूरी है यदि आप कम नमक का करेंगे तो आपके शरीर में सुस्ती रहेगी आपका मन उल्टी करने के लिए होगा लेकिन होगी नहीं और पानी की मात्रा कम हो जायेगी जिससे आपके ह्रदय में सूजन आने की समस्या बड़ सकती है।

Also Read :

यदि आपके घर में कोई सदस्य नमक का कम या ज्यादा सेवन करता है तो उन्हें भी इससे होने वाली समस्याओ से परिचित कराये और डॉक्टर की सलाह ले कर नमक मात्रा में सेवन करने की सलाह दे ताकि आगे चल कर उन्हें किसी प्रकार की समस्या का सामना न करना पड़े।

आशा करती हूँ आपको मेरे इस आर्टिकल से कुछ नई जानकारी मिली होगी यदि आपको मेरी पोस्ट पसंद आई हो तो दोस्तों के साथ मीडिया पर जरूर शेयर करे ताकि जिन लोगो को नमक मात्रा में न लेने से होने वाली बीमारियों के बारे में पता नहीं है वे लोग भी इसे जाने और अपने खाना पान में सही मात्रा में नमक का इस्तमाल करे।

कृपया शेयर करे !