वैसे तो अरहर की दाल  लगभग रोज सभी घरो में बनती है, क्योकि दाल के बिना खाने का मेन्यू ही कम लगता है

दाल खाने का असली मजा तो सिर्फ रेस्टोन और ढाबे पर ही आता है, यदि आप घर भी रेस्टोन जैसी दाल बनाना चाहते है तो इस पेज पर दी गई रेसिपी के अनुसार बनाये। बिल्कुल वैसी ही दाल बनेगे जैसी आप रेस्टोन में खाते है।

सभी दालो को खाने के अलग-अलग फायदे होते है जैसे अरहर की दाल खाने से रक्त संचार विना किसी रूकाबट के चलता है एक कप पकी हुई दाल में 11% प्रोटीन पाया जाता है, प्रोटीन बच्चो के शरीर की मासपेशीया, हड्डीयो, कोशिकाओ और ऊतकों का निर्माण करती है ।

हम इसमें सबूत जीरा और सबूत लाल मिर्च का तड़का लगा कर और ज्यादा स्वादिष्ट बनायेगे।

दाल तड़का बनाने की आवश्यक सामग्री

  • अरहर दाल :1 कप
  • प्याज :1 छोटी  बारीक कटी
  • लहसून : 4 कलिया  बारीक कटा
  • हरी मिर्च : 2  बारीक कटी
  • टमाटर : 1 कटा हुआ या कद्दूकस
  • कश्मीरी लाल मिर्च  : 1/4छोटी चम्मच
  • धनिया पाउडर : 1 /2
  • हल्दी पाउडर : 1/3
  • सबूत जीरा : 1/2 छोटी चम्मच
  • राई : 10 दाने बगैर छिलके की
  • करी पत्ता :  2
  • सबूत लाल मिर्च  : 2
  • नमक : स्वाद अनुसार
  • घी या तेल : 1 चम्मच ( तड़का लगाने के लिये )
  • पानी : जरूरत के अनुसार
  • हींग : 1 चुटकी खुसबू वाली
  • हरी धनिया : बारीक कटी

दाल बनाने के लिए कुछ आवश्यक बर्तन

  • कूकर : दाल पकाने के लिये
  • चमचा या क्लछरी : 1 दाल चलाने के लिये
  • कड़ाई : 1 दाल बनाने के लिए
  • प्लेट : 1 ढकने के लिए
  • चाकू : 1 प्याज धनिया हरी मिर्च को बारीक काटने के लिए

दाल तड़का बनाने की विधि

एक कप अरहर दाल को साफ कर ले और एक कटोरे में पानी डाल कर धो ले धोने के बाद कटोरे में ओर पानी डाल कर 10 से 15 मिनट के लिए अलग रख दे।

निश्चित समय बाद कटोरे की दाल का सारा पानी निकाल दे, और गैस को चालू करके कूकर को गैस पर रखे गैस को धीमा रखे और कूकर में 3 कप पानी डाले।

कूकर में पानी डालने के बाद अब जो दाल भिगोकर रखी थी उसमे आधा छोटी चम्मच तेल डाले और दाल के साथ मिक्स कर ले दाल और तेल को मिक्स करने के बाद दाल को कूकर में डाल दे।

कूकर में दाल के साथ 1/3 चम्मच हल्दी पाउडर डाले और कूकर का ढक्कन लगा दे गैस की आंच तेज कर दे और चार से पांच सीटी होने दे।

पांच सीटी के बाद गैस को धीमा कर दे कूकर का प्रेशर खत्म कर दे और कूकर का ढक्कन खोल दे दाल को चेक कर ले दाल अच्छे से पकी है या नहीं और यदि पक गई है तो कोई बात नहीं है और अगर नहीं पकी है तो कूकर का ढक्कन बंद कर दे और दो सीटी होने दे, दो सीटी के बाद कूकर को खोल दे।

अब एक पतीले या कढ़ाई को गैस पर रखे कड़ाई में दो छोटी चम्मच तेल डाल कर गर्म करे तेल गरम हो जाने पर तेल में बारीक कटा लहसुन और प्याज डाले और हल्का गोल्डन होने दे।

हरी कटी मिर्च डाले अदरक डाले और जब प्याज लाल हो जाये तो बारीक कटा टमाटर डाले अब टमाटर को अच्छे से पका ले टमाटर को चमचे से दबा सकते है।

स्वाद अनुसार नमक डाले धनिया पाउडर, कश्मीरी लाल मिर्च पाउडर डाले जब टमाटर पक जाये तो कूकर की दाल को कढ़ाई में डाले मिक्स करे एक उबाल आने दे।

एक उबाल आने के बाद धीमी आंच पर 1 मिनट दाल को पकाये और गैस को बंद कर दे।

दाल के लिए तड़का

एक छोटी कढ़ाई में 2 छोटी चम्मच घी डालेंगे घी को गर्म होने दे जब घी गर्म हो जाये तो जीरा, राई डालेंगे 1 चुटकी हींग डालेंगे इन सब को पुटकने दे और दो सबूत लाल मिर्च, करी पत्ता डाल कर गैस बंद कर दे, कढ़ाई में रखी दाल के ऊपर से इस तड़के को डाले और प्लेट से ढक दे दाल तड़का तैयार है।

अब एक कटोरी में दाल निकाल कर ऊपर से बारीक कटी हरी धनिया डाल दे गरमा गर्म दाल खाने के लिए तैयार है, दाल का स्वाद तीखा और चटपटा होता है।

जानकारी 

अरहर दाल बनाने के लिए सुझाव

अरहर की दाल के साथ यदि आप कोई और दाल डालते है तो आप वो भी डाल सकते है ।

दाल बिना छिलके वाली होनी चाहिए नहीं तो छिलके दिखने में अच्छे नहीं लगेंगे।

वैसे तो मटर सभी को पसंद होते है अगर आप को भी पसंद है तो डाल सकते है।

आप घी और तेल में से कुछ भी डाल सकते है।

प्याज की मात्रा कम ही रखे।

कश्मीरी लाल मिर्च पाउडर न हो तो आप जो भी मिर्च पाउडर डालते है वो डाल सकते है। ( रेस्टोंरेंट में बनने वाली हर सब्जी में कश्मीरी लाल मिर्च का उपयोग किया जाता है )

यदि आप लहसुन नहीं खाते है तो न डाले ।

दाल तड़का परोसे

दाल को सभी जगह चावल के साथ खाया जाता है आप इसे बाटी, रोटी, पराठे और जीरा राईस के साथ भी खा सकते है जब कोई मेहमान आप के घर आये तो इसे दोपहर के खाने के मेन्यू में जरूर रखे क्योकि दाल चावल अधिक लोगो को पसंद होते है।