स्वादिष्ट खस्ता फारसी पूरी बनाने की विधि

दोस्तों इस पोस्ट में खस्ता फारसी पूरी बनाने की रेसिपी शेयर की गई है यदि आप खस्ता फारसी पूरी बनाने की रेसिपी सर्च कर रहे है तो बिल्कुल सही पेज पर आये है।

फरसी पूरी बनाने में थोड़ा समय लगता है लेकिन यह बहुत ही क्रिस्पी और खसखसी बन क्र तैयार होती है इसलिए बच्चो के साथ सभी को पसंद होती है।

फरसी पूरी एक गुजराती पूरी है जिसे आप हल्की भूख लगने पर और सुबह और शाम चाय के साथ नास्ते में खा सकते है। तो चलिए अब हम फरसी खस्ता पूरी बनाना शुरू करते है।

फरसी पूरी बनाने की सामग्री

  • मैदा : 250ग्राम
  • सूजी : 50 हल्के देने की (बारीक )
  • नमक : स्वाद अनुसार
  • काली  मिर्च : 1 चम्मच बारीक कुटी
  • घी या तेल : 2 चम्मच
  • जीरा दाने  : 1 चम्मच
  • अजवायन : 1  छोटी चम्मच
  • काजू : 5 से 6 हल्के दानो में टूटे हुए
  • तेल : फरसी पूरी तलने के लिए

फरसी पूरी बनाने की विधि

मैदे को एक बाउल में छान कर साफ करे सूजी को भी एक प्लेट में साफ करे और दोनो को मिला ले जीरा और अजवाइन को बेलन से या खलबट्टे से थोड़ा पीस ले जीरा और अजवायन को महीन नहीं करना है बस थोड़ा दरदरा रहने देना है, काजू को भी दरदरा पीस ले, अब सभी को मैदा में मिला दे।

अब स्वाद अनुसार नमक डाले हाथ से थोड़ा मिलाये अब तेल या घी डाले और दोनों हाथो से अच्छे से 2 मिनट तक मिलाये।

इसे मिलाने में जल्द बाजी न करे क्योकि जब तक तेल मैदा में अच्छे से मिक्स नहीं होता है तब तक आपकी फरसी पूरी खुसखुसी नहीं बनेगी।

मैदा सूजी और तेल को मिलाने 1 से 2 मिनट तक अच्छे से जरूर मिलाये, अब पानी थोड़ा गुनगुना कर ले और आटे में थोड़ा – थोड़ा कर के डाले और सख्त आटा गूँथ ले अब आटे को एक सूती कपड़े से ढक कर 20 मिनट के लिए रख दे ताकि सूजी फूल जाये।

फरसी खस्ता पूरी बनाने की विधि

जो आटा हमने गूथा था उसे एक बार फिर दोनों हाथो से खूब मसले और अब आटे की गोल – गोल 4 लोई बना ले, लोई को चकले या प्लेट फॉम पर रख कर हाथ से गोल कर के दबा दे और बेलन से बेल ले।

बेलते समय किनारो से फटेगी क्योकी आटा कड़ा है इसे ज्यादा न पतला न ज्यादा मोटा एक बिस्किट से थोड़ा पतला बेले, अब इसे किसी ढक्कन से गोल या चाकू से चोकोर काट ले अब चाकू से चम्मच से बीच – बीच में छेद कर दे ताकि बीच से ये फूले न, अब इसी तरह आधी सी पूरी बेल ले।

आधी सी पुरिया बेलने के बाद गैस को चालू कर के कड़ाई को गैस पर रखे और गरम करे अब कड़ाई में तेल या घी डाले तेल इतना डाले जितने में पूरी अच्छे से डूब जाये।

गैस को मीडियम कर ले तेल को मीडियम आंच पर गरम करे तेल को ज्यादा गर्म न करे तेल को हल्के गर्म होने पर ही पूरियो को डाले, यदि आप तेल को तेज गर्म कर लेंगे तो पुरिया डालते है लाल हो जाएगी और अच्छे सिंकेगी भी नहीं और खस्ता भी नहीं बनेगी।

पूरी को थोड़ा मीडियम आंच पर सेकने के बाद पूरी को पलट दे गैस को धीमा कर दे और पूरी को दोने तरफ हल्का सुनहरा होने तक सेक ले फरसी पूरी को सिकने में चार पांच मिनट लगेंगे इसका कलर लाल न करे सुनहरा ही रहने दे।

पूरी को पलटने के बाद एक बार फिर से गैस को मीडियम कर ले और सारी पुरियो को चमचे से चलाये ताकि सारी पुरियो का कलर एक जैसा हो जाये।

अब आप एक पूरी को निकाले और बीच से तोड़े और थोड़ा ठंडा होने दे फिर खा कर या हाथ से मसल कर देखे आटा चिपक तो नहीं रहा है अगर नहीं चिपक रहा है तो जितनी पूरी डाली थी उन्हें एक प्लेट में कपड़ा या टिशू पेपर बीछा कर निकाल ले ताकि जो अतिरिक्त तेल है उसे कपडे द्वारा या टिसू पेपर द्वारा सोख लिया जाये है।

अब जो बाकि की पुरिया है उन्हें भी ऐसे ही सेक ले फारसी पूरी तैयार है।

आप चाहे तो इन्हे गरमा गरम खाये या परोसे या सारी पूरी को अच्छे से ठंडा करके एक हवा बंद डिब्बे में रख ले।

जरूर देखें :

खस्ता फरसी पूरी बनाने के लिए सुझाव

इसमें आप मैदा और बारीक सूजी को ही डाले गेहू का आटा न डाले।

आटा कड़ा ही गूथे इसमें आप चाहे तो खाने का सोडा भी डाल सकते है।

अगर आपके पास काजू नहीं है तो न डाले।

काली मिर्च की जगह सबूत लाल मिर्च भी डाल सकते है काली मिर्च की तरह इहे भी पीस ले।

नमक स्वाद अनुसार ही डाले।

फरसी पूरी को आप चाहे तेल में सेके या घी में इसकी कैलोरी बहुत अधिक होती है।

खस्ता फरसी पूरी को कैसे परोसे

आप किसी भी त्यौहार पर फरसी पूरी बना सकते है और इसे भेल के साथ चाय के साथ खा सकते है।

हलकी भूख लगने पर खाये फ़ारसी पूरी को खाया जाता है है आप फ़ारसी पूरी को बच्चो के टिफन में भी रख सकते है और पिकनिक पर ले जा सकते है

फ़ारसी पूरी 8 से 10 दिन तक ख़राब नहीं होती है।

2 thoughts on “स्वादिष्ट खस्ता फारसी पूरी बनाने की विधि”

Leave a Comment