साबूदाना कैसे बनता है साबूदाना के फायदे

इस पेज पर आप जानेगे साबूदाना कैसे बनता है।

साबूदाना व्रत के लिए सबसे शुद्ध माना जाता है इससे कई तरह के पकवान बनाये जाते है।

हमें पता होना चाहिए जिस साबूदाने का उपयोग हम व्रत में खाने के लिए करते है वह कैसे बनाया जाता है।

तो चलिए जानते है साबूदाना कैसे बनता है।

साबूदाना कैसे बनता है

साबूदाना बनाने के लिए दो तरह के कच्चे माल का उपयोग किया जाता है।

सागो पाम के पेड़ का गुदा

सागो पाम के पेड़

साबूदाना किसी भी तरह के अनाज से नहीं बनाया जाता है, बल्कि इसे बनाने के लिए एक पेड़ के तने के गूदे का उपयोग किया जाता है जो पूरी तरह शुद्ध होता है।

साबूदाना बनाने के लिए जिस पेड़ के गूदे का उपयोग किया जाता है उसे सागो पाम नाम से जाना है यह पेड़ मूलरूप से पूर्वी अफ्रीका है।

इस पेड़ का तना बहुत मोटा होता है जिसे काट कर सूखा कर पिसा जाता है और पाउडर बनाया जाता है।

पाउडर को छान कर गर्म किया जाता है जिससे पाउडर से छोटे -छोटे दाने बनाये जाते है।

टैपिओका रूट

टैपिओका रूट

साबूदाना बनाने के टैपिओका स्टार्च का भी इस्तेमाल किया जाता है, इससे मुख्य रूप से भारत में ही साबूदाना बनाया जाता है।

शकरकंद के जैसे दिखने वाले कसावा नामक कंद के गूदे को बड़े-बड़े बर्तनो में निकाल लिया जाता है।

इस कंद के गूदे के ऊपर प्रतिदिन पानी डाला जाता है और यह प्रकिया 5 से 6 महीने तक ऐसे ही चलती है।

5 से 6 महीने बाद उस गूदे को पानी से निकाल कर मशीन में डाला जाता है जिससे साबूदाना की छोटी छोटी गोलिया बन कर निकलती है जिसे धूप में सुखाया जाता है।

साबूदाना को सुखाने के बाद स्टार्च और ग्लूकोज के पाउडर की पॉलिश की जाती है।

इस तरह से मोती के जैसा दिखने वाला साबूदाना तैयार किया जाता है।

साबूदाना के फायदे

  1. यह कमजोर हड्डियों को मजबूत बनाने का काम भी करता है. दरअसल, हड्डियों को मजबूत करने और उनके विकास के लिए हमें कैल्शियम की जरूरत होती है, और साबूदाने में कैल्शियम की अच्छी मात्रा पाई जाती है।
  2. पेट में किसी भी प्रकार की समस्या होने पर साबूदाना खाना काफी लाभप्रद सिद्ध होता है। यह पाचन क्रिया को ठीक कर गैस, अपच आदि समस्याओं में भी लाभ देता है।
  3. प्रोटीन से भरपूर होने के कारण साबूदाना मसल्स‍ को विकसित होने में बहुत मदद करता है।
  4. ब्रेकफास्ट के लिए साबूदाना बेहतर फूड है. अगर आप सुबह के समय इसका सेवन करते हैं तो दिन भर एक्टिव फील होगा और शरीर स्वस्थ्य रहता है।
  5. इसमें कैलोरी और कार्बोहाइड्रेट की अच्छी मात्रा पाई जाती है, जो आपके वजन बढ़ाने में आपकी मदद कर सकती है।

जरूर पढ़े :- घर में जीरा पाउडर बनाने की विधि

आशा है आपको हमारी यह जानकारी पसंद आई होगी।

हमारे द्व्रारा शेयर की गई पोस्ट साबूदाना कैसे बनता है पसंद आई हो तो अपने दोस्तों के साथ जरूर शेयर करे।