दही क्या है, दही खाने के फायदे और नुकसान

दही का उपयोग हर घर में खाने के लिए किया जाता है, लेकिन क्या आप जानते है दही आखिर है क्या इसे खाने से क्या फायदे और नुकसान होते है।

यदि आप भी दही संबंधित जानकारी पढ़ने में रूचि रखते है तो मेरी इस पोस्ट को पूरा पढ़े, इसे पढ़ने के बाद आपको दही से जुडी सारी जानकारी मिल जायेगी।

तो चलिए सबसे पहले जानते है दही क्या है।

दही क्या है 

दही दूध से बना एक खट्टा पदार्थ है, जिसका निर्माण जीवाणुज किण्वन द्वारा होता है किण्वन कराने वाले जीवाणु को लेक्टोबेसिलस कहा जाता है जिन में लेक्टिक अम्ल बनाने की क्षमता अधिक होती है यदि दूध को कुछ समय के लिए उसकी उचित जगह जैसे ठंडे स्थान पर या उबाल कर न रखा जाए तो दूध में लैक्टोबेसिलस बैक्टीरिया की संख्या दूध में बढ़ जाती है।

दूध में लेक्टोबेसिलस की मात्रा बढ़ने पर दूध में लेक्टिक एसिड की मात्रा भी बढ़ जाती है जिससे दूध खराब हो जाता है, और कुछ समय बाद दूध एक थक्के के रूप में जम जाता है यही जमा हुआ थक्का दही कहलाता है।

दही का स्वाद खाने में खट्टा होता है दही बनाने के लिए गाय और भैस के दूध के अलावा सोयाबीन के दूध का उपयोग किया जाता है।

दही खाने के फायदे 
  1. दूध के मुताबिक दही में अधिक मात्रा में कैल्शियम होता है इसलिए आप अपने रोज के खाने में दही को जरूर शामिल करे कैल्शियम हड्डियों और दांतो को मजबूत बनाये रखने में मदद करता है।
  2. दही में अधिक मात्रा में विटामिन डी होता है जो हमारे शरीर में उपस्तिथ हड्डियों को मजबूत बनाये रखने में मदद करता है।
  3. दही खाने से शरीर में उपस्तिथ अतिरिक्त कोलेसिट्रोल कम किया जाता है यदि आप मोटापे से परेशान है तो आप अपने रोज के नाश्ते में थोड़ा सा दही शामिल कर ले कुछ ही समय में आपका वजन कम होने लगेगा।
  4. दही का सेवन एक निश्चित मात्रा में करने से ब्लड प्रेशर की समस्या को दूर किया जा सकता है।
  5. पेट में हो रही जलन, दस्त और दर्द होने पर दही का सेवन करने से दही में नमक मिला कर या दही की लस्सी बना कर पीने से पेट का दर्द और जलन दोनों ठीक हो जाती है।
  6. सप्ताह में दो या तीन बार दही का सेवन करने से रोग प्रतिरोधक क्षमता मजबूत होती है दही में एंटीऑक्सीडेंट उपस्तिथ होता है यह हमे रोगो से लड़ने की क्षमता देता है।
  7. दही में उपस्तिथ विटामिन ए, जिंक और फास्फोरस हमारे चहरे की चमक को बढ़ाने में मदद करता है, दही के साथ एक चम्मच बेसन लगाने से चेहरे का रंग साफ होता है।
  8. दही को मिटटी बालो में लगाने से बालो की चमक बढ़ती है बाल मुलायम होते है यदि आपको रुसी है तो आप दही के साथ मेहँदी को घोल ले और अपने बालो पर 2 से 3 घंटे तक लगा कर रखे यस आपको सप्ताह में दो बार करना है कुछ ही दिन में आ[के बालो से रुसी खत्म हो जायेगी।
दही कब नहीं खाना चाहिए 
  1. यदि आपको सर्दी जुखाम है तो आपको किसी भी तरह से दही का सेवन नहीं करना चाहिए क्योकि दही की तासीर ठंडी होती है यदि आप सर्दी जुखाम होने पर दही का सेवन करेंगे तो आपकी सर्दी बढ़ जाएगी।
  2. जिन लोगो को डायबिटीज की समस्या होती है उन्हें दही के साथ चीनी का सेवन नहीं करना चाहिए उनकी समस्या बढ़ सकती है।
  3. दही में उपस्तिथ लैक्टोज एसिड उपस्तिथ होता है इसलिए लैक्टोज असहिष्ष्णुता से प्रभावित मरीजों को दही का सेवन नहीं करना चाहिए दही का सेवन करने से इन मरीजों के पेट में दर्द और उल्टी जैसी समस्या हो सकती है।
  4. अर्थराइटिस के मरीजों को दही का सेवन नहीं करना चाहिए।
  5. वजन कम करने के लिए दही के साथ चीनी का सेवन नहीं करना चाहिए।

ये भी जाने :-

अब आप जान गए होंगे दही क्या है इसे खाने के फायदे और नुकसान क्या है।

वैसे तो दही स्वादिष्ट होता है लेकिन इसे खाने से फायदे भी होते है लेकिन इसे सर्दी खासी और अर्थराइटिस होने वालो को दही का सेवन नहीं करना चाहिए नहीं तो आपको इसके दुष्प्रभाव का सामना करना पढ़ेगा।

यदि आपको मेरी यह पोस्ट पसंद आई हो तो अपने दोस्तों के साथ जरूर शेयर करे ताकि उन्हें भी दही से संबंधित जानकारी प्राप्त हो।

Leave a Comment